Ipl 2024 : कोलकाता नाइट राइडर्स के खिलाफ मिली 106 रनों की बड़ी हार से भड़के कप्तान ऋषभ पंत, पोंटिंग ने इन पर फोड़ा ठीकरा

कोलकाता नाइट राइडर्स के खिलाफ मिली 106 रनों की बड़ी हार से दिल्ली कैपिटल्स (DC) के कप्तान ऋषभ पंत काफी निराश हैं. इस मैच में कोलकाता नाइट राइडर्स  के बल्लेबाजों ने दिल्ली कैपिटल्स (DC) के गेंदबाजों की खूब धुनाई की और 272 रनों का विशाल स्कोर खड़ा किया और टूर्नामेंट के इतिहास के सर्वोच्च स्कोर की बराबरी से पांच रन से चूक गई. इससे पहले सनराइजर्स हैदराबाद की टीम ने इसी IPL सीजन में मुंबई इंडियंस के खिलाफ 277 रनों का पहाड़ जैसा स्कोर बनाया था. कोलकाता नाइट राइडर्स (KKR) के लिए सुनील नरेन (85), अंगकृष रघुवंशी (54), आंद्रे रसेल (41) और रिंकू सिंह (26) ने तूफानी पारी खेली. इन पारियों के दम पर केकेआर ने 7 विकेट के नुकसान पर 272 रन बनाए.

मैच हारने पर बुरी तरह भड़के कप्तान ऋषभ पंत

ऋषभ पंत इस बात से भी निराश दिखे कि वो सुनील नरेन और केकेआर के कप्तान श्रेयस अय्यर के खिलाफ अपील पर रिव्यू लेने से चूक गए, जबकि रीप्ले से पता चलता है कि वे आउट हो सकते थे. साथ ही पंत की कप्तानी में भी कुछ खामियां नजर आई, जिसमें अक्षर पटेल का सही इस्तेमाल न करना भी शामिल है. ऋषभ पंत ने 25 गेंदों में 55 रनों में पांच छक्के और चार चौके लगाकर प्रतिस्पर्धी क्रिकेट में अपना दमदार कमबैक जारी रखी, जबकि ट्रिस्टन स्टब्स ने 32 गेंदों में 54 रन में आठ चौके लगाकर मेजबान टीम को एक सम्मानजनक स्कोर तक पहुंचाया. बल्लेबाजी के दौरान आउट होने से पहले पंत लंगड़ाते दिखे, जिसके बाद उन्हें फिजियो की आवश्यकता भी पड़ी.

पोंटिंग ने निकाला गुस्सा

इसके अलावा दिल्ली कैपिटल्स के हेड कोच रिकी पोंटिंग ने कोलकाता नाइट राडर्स से 106 रन से मिली हार को अस्वीकार्य और निराशाजनक बताते हुए अपनी टीम को फटकार लगाई है. दिल्ली कैपिटल्स ने पहले केकेआर को सात विकेट पर 272 रन बनाने दिए और बाद में पूरी टीम 17.2 ओवर में 166 रन पर आउट हो गई. पोंटिंग ने मैच के बाद कहा,‘अभी इसकी समीक्षा करना मुश्किल है. पहले हाफ में टीम के प्रदर्शन से मैं बहुत निराश हूं.’

पोंटिंग ने इन पर फोड़ा ठीकरा

दिल्ली कैपिटल्स के गेंदबाजों को जिम्मेदार बताते हुए रिकी पोंटिंग ने कहा,‘इतने रन देना समझ से परे है. हमने 17 वाइड गेंद डाली और अपने ओवर पूरे करने में दो घंटे लगे. नतीजा हम फिर दो ओवर पीछे रह गए जिसके मायने है कि आखिरी दो ओवर डालने वालों को सर्कल के बाद चार ही फील्डर मिले. मैच में बहुत कुछ हुआ जो अस्वीकार्य है. हम टीम के भीतर इस पर बात करेंगे और जल्दी ही इसमें सुधार करेंगे. खुलकर अच्छी बातचीत होना जरूरी है. गेंदबाजी, फील्ड प्लेसमेंट सभी पर बात करनी होगी.’

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *